समाचार
‘ड्यूटी पर पुलिसकर्मी मरते हैं लेकिन हड़ताल नहीं करते’- डॉक्टरों से ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार (13 जून) को दोपहर 2 बजे तक डॉक्टरों को हड़ताल से लौट आने के लिए कहा अन्यथा परिणाम अच्छे नहीं होंगे। कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज में एक जूनियर डॉक्टर से मारपीट के बाद नगर के सभी डॉक्टर हड़ताल पर चले गए थे।

“मैं हड़ताल पर जाने वाले डॉक्टरों की निंदा करती हूँ। लाइन ऑफ़ ड्यूटी में पुलिसकर्मी भी मरते हैं लेकिन वे तो हड़ताल पर नहीं जाते।”, ममता के कथन का उल्लेख इंडिया टुडे  ने किया।

सोमवार रात को एक 75 वर्षीय मरीज़ मोहम्मद शाहीद की मृत्युहोने पर उनके परिवारजन लापरवाही का आरोप लगाकर पत्थरबाज़ी करने लगे। इस हमले में एक जूनियर डॉक्टर बुरी तरह घायल हो गया।

इसके बाद कोलकाता के डॉक्टरों ने हड़ताल शुरू कर दी थी जिसपर ममता बनर्जी क्रोधित हो गईं। अन्य माँगों के साथ डॉक्टरों ने सुरक्षा की भी माँग की थी।

दूसरी ओर ममता बनर्जी का कहना है कि यह हड़ताल भाजपा द्वारा रचा गया षड्यंत्र है और डॉक्टरों को चेताते हुए उन्होंने कहा कि यदि उनके आदेश का पालन नहीं हुआ तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।