समाचार
सैमसंग चीन से उत्तर प्रदेश में ला रहा अपनी इकाई, ₹4,825 करोड़ का करेगा निवेश

विनिर्माण क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करने के लिए भारत के मेक इन इंडिया और आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रमों के तहत एक उल्लेखनीय विकास में इलेक्ट्रॉनिक्स प्रमुख सैमसंग अपने मोबाइल और आईटी डिस्प्ले उत्पादन इकाई को चीन से उत्तर प्रदेश में स्थानांतरित करने के लिए 4,825 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रहा है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इस सकारात्मक खबर की घोषणा करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने कहा, “यह दक्षिण कोरियाई बहुराष्ट्रीय निगम की पहली ऐसी उच्च तकनीक परियोजना को चिह्नित करेगा, जिसे चीन से स्थानांतरित करने के बाद भारत में स्थापित किया जाएगा।”

भारत इस तरह की सैमसंग इकाई रखने वाला दुनिया का तीसरा देश बन जाएगा। सैमसंग का निवेश भी महत्वपूर्ण है क्योंकि कंपनी वर्तमान में 70 प्रतिशत से अधिक वैश्विक डिस्प्ले उत्पादों का उपयोग करती है, जो कि टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट, घड़ियों वगैरह के रूप में होता है।

सैमसंग बीते कुछ वर्षों से भारत पर बड़ा दांव लगा रहा है। उसने पहले से ही उत्तर प्रदेश के नोएडा में दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन बनाने की सुविधा स्थापित की है। उसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2018 में किया था।

कंपनी उत्तर प्रदेश से बाहर सबसे बड़ी निर्यातक भी है। पिछले वित्तीय वर्ष में कंपनी ने राज्य से 2.7 अरब डॉलर का माल निर्यात किया था। अगले पाँच वर्षों में 50 अरब डॉलर के माल के निर्यात करने का उनका लक्ष्य है।