समाचार
कंपाउंडर को “बेहतर” बताने वाले शिवसेना नेता संजय राउत के त्याग-पत्र की माँग

शिवसेना के सांसद और प्रवक्ता संजय राउत के कंपाउंडर को बेहतर बताने वाले बयान के बाद चिकित्सकों ने सोमवार (17 अगस्त) को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे से शिकायत करके उनके त्याग-पत्र की माँग की है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के ठाणे चैप्टर ने संजय राउत के बयान को लेकर अपना विरोध जताया है।

आईएमए ठाणे के अध्यक्ष डॉक्टर संतोष कदम ने कहा, “उस वक्त जब पूरी दुनिया कोविड-19 से लड़ रही है। खासतौर पर ऐसे वक्त में हम चिकित्सीय टीम और चिकित्सकों के प्रति सकारात्मक नज़रिया अपनाने की उम्मीद करते हैं। इसी वजह से हमने उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर बयान पर आपत्ति जताई है।”

पत्र में कहा गया है, “इतने महत्वपूर्ण समय में हम सरकार और राजनेताओं को अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों के साथ खड़े होते हुए देखना चाहते हैं। हम न केवल अपने लिए बल्कि हमारे ऊपर आश्रितों के लिए भी बहुत जोखिम का काम कर रहे हैं। हम डॉक्टर ऐसी नकारात्मक और अपमानजनक टिप्पणियों के साथ कुशलतापूर्वक और ईमानदारी से काम नहीं कर सकते। उम्मीद है कि आप आवश्यक कार्रवाई करेंगे।”

बता दें कि रविवार (16 अगस्त) को एक मराठी चैनल से बातचीत के दौरान सांसद संजय राउत ने कहा था, “कंपाउंडर काफी बेहतर होते हैं। मैं हमेशा उनसे ही दवाएँ लेता हूँ।” उनके इस बयान के बाद चिकित्सकों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने मुख्यमंत्री से उक्त नेता के इस्तीफे की माँग कर ली।