समाचार
बिहार पुलिस के एसएचओ अश्विनी की भीड़ द्वारा हत्या के बाद शव देख माँ का भी निधन

पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर के गोवालपोखर थाना क्षेत्र के पांतपाड़ा गाँव में मोहम्मद इज़राइल नामक व्यक्ति के नेतृत्व में भीड़ द्वारा बिहार के किशनपुर के एसएचओ अश्विनी कुमार की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। रविवार (11 अप्रैल) को अश्विनी का पार्थिव शरीर जब घर पहुँचा तो उनकी माँ की तबीयत बिगड़ गई और दिल का दौर पड़ने से उनका निधन हो गया।

इज़राइल ने अपने बेटे मोहम्मद अब्दुल के साथ कथित रूप से एक मस्जिद का उपयोग करके उससे ऐलान करके एसएचओ पर हमले के लिए लोगों को उकसाया था।

लगभग 500 अज्ञात लोगों के साथ 21 चिह्नित व्यक्तियों को इस मामले में आरोपी बनाया गया है। साथ ही चोरी की बाइक बरामद करने के लिए बिहार से कुमार के साथ छापेमारी करने गई टीम के प्रत्येक पुलिसकर्मी को साथी अधिकारी की सुरक्षा में विफल रहने की वजह से निलंबित कर दिया गया।

एसएचओ और उनकी वृद्ध माँ दोनों का रविवार को एकसाथ अंतिम संस्कार किया गया। कुमार अपने पीछे पत्नी और तीन नाबालिग बच्चों को छोड़ गए हैं। पुलिस ने सीमा क्षेत्र से दो अन्य व्यक्तियों को भी गिरफ्तार किया है, जो चोरी की बाइक के साथ भागने की कोशिश कर रहे थे।

अश्विनी कुमार की माँ के निधन पर बोलते हुए पूर्व एसएचओ के मामा सुभाष सिंह ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “रविवार सुबह लगभग 5.30 बजे दिल का दौरा पड़ने से बहन की मृत्यु हो गई। शुरू में उन्हें घटना के बारे में नहीं बताया गया था लेकिन शनिवार को कुमार का शव घर पहुँचने के बाद उनकी हालत बिगड़ने लगी थी।”