समाचार
लालू यादव को दुमका कोषागार मामले में झारखंड उच्च न्यायालय से मिली जमानत

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के प्रमुख लालू यादव को दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ रुपये की निकासी के मामले में झारखंड उच्च न्यायालय से शनिवार (17 अप्रैल) को जमानत मिल गई। फिलहाल, एम्स में अभी उनका उपचार चल रहा है।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, लालू यादव की जमानत पर निर्णय सुनाते हुए रांची उच्च न्यायालय ने आदेश दिया कि जमानत के लिए लालू यादव को एक लाख रुपये का मुचलका देना होगा। जुर्माने के तौर पर 10 लाख रुपये जमा करने होंगे। उन्हें अपना पासपोर्ट जमा कराना होगा। बिना न्यायालय की अनुमति के विदेश नहीं जा सकेंगे। अपना पता और मोबाइल नंबर नहीं बदलना होगा।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री को 900 करोड़ रुपये के चारा घोटाले के तीन मामलों में जमानत मिल चुकी है। अब दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में भी जमानत मिलने के बाद उनके जेल से बाहर आने का रास्ता करीब-करीब साफ हो चुका है।

इस पर तेज प्रताप ने ट्विटर लिखा, “गरीबों, वंचितों, पिछड़ों का रहनुमा आ रहा है। बता दो अन्याय करने वालों को हमारा नेता आ रहा है।” बता दें कि पिछली 23 जनवरी को लालू प्रसाद यादव की तबियत ज्यादा बिगड़ने के बाद रिम्स के मेडिकल बोर्ड ने उन्हें दिल्ली के एम्स में बेहतर उपचार के लिए अनुशंसा की थी। इसके बाद उन्हें एक महीने के लिए एम्स भेजने की अनुमति जेल प्रशासन ने दी थी।