समाचार
लालू प्रसाद यादव उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के 12 दिन बाद आए जेल से बाहर

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव शुक्रवार (30 अप्रैल) को जेल से रिहा हो गए। उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के 12 दिन बाद वह जेल से बाहर आ पाए हैं।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, झारखंड उच्च न्यायालय ने 17 अप्रैल को लालू प्रसाद यादव को राज्य के दुमका कोषागार में अवैध निकासी से जुड़े मामले में जमानत दी थी। हालाँकि, अधिवक्ताओं के कार्य न करने की वजह से जमानती मुचलका भरा नहीं जा सका था।

बार काउंसिल ऑफ इंडिया की ओर से आदेश जारी होने के बाद गुरुवार (29 अप्रैल) को लालू प्रसाद यादव के पैरवीकार वकील ने दो निजी मुचलके दाखिल किए। इसको न्यायालय ने सही पाया और बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार होटवार के जेल अधीक्षक के पास भेज दिया गया। साथ ही लालू यादव को छोड़ने का आदेश भी दिया गया।

बता दें कि दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू ने जमानत के लिए आधी सजा पूरी करने का दावा करते हुए याचिका दायर की थी। वहीं, सीबीआई का दावा था कि उनकी आधी सजा अभी पूरी नहीं हुई है। इसके बाद हुई सुनवाई में लालू को जमानत मिल गई।