समाचार
अजय पंडिता के पिता- “मुझे दुख है कि आतंकवादियों ने मेरे बेटे की पीठ पर गोली मारी”

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकियों ने सोमवार को कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की गोली मारकर हत्या कर दी। लश्कर लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) ने हत्या की ज़िम्मेदारी ली है।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस अधिकारी ने बताया, “आतंकियों ने शाम 6 बजे अनंतनाग जिले के लकीपुरा क्षेत्र के सरपंच और कांग्रेस के सदस्य अजय पंडिता की उनके गाँव में हत्या कर दी। पंडित को उपचार के लिए अस्पताल पहुँचाया गया, जहाँ उनकी मौत हो गई।”

पुलिस ने बताया, “सरपंच अजय पंडिता के घर के पास ही आतंकियों ने उन पर गोली चलाई। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। साथ ही क्षेत्र की घेराबंदी कर आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों के साथ मिलकर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सरपंच की हत्या पर कहा, “अजय पंडिता ने कश्मीर में लोकतांत्रित व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपनी जान दे दी। मैं इस मुश्किल वक्त में उनके परिवार और दोस्तों के साथ खड़ा हूँ।

पंडिता के पिता द्वारिका नाथ पंडिता ने कहा, “मुझे दुख है कि आतंकवादियों ने मेरे बेटे को उसकी पीठ पर गोली मारी।” अजय की दो बेटियाँ हैं, जिन्होंने इस घटना के बाद कहा है कि वे अपना मूल स्थान नहीं छोड़ेंगी।