समाचार
“डॉक्टर के प्रमाण-पत्र से विशेष पास जारी कराकर लोग ले सकते हैं शराब”- विजयन सरकार

केरल सरकार शराब के लती लोगों के लिए एक विशेष पास जारी करेगी। यह उन्हीं को मिलेगा, जो शराब ना मिलने की वजह से विचलित हो रहे हैं। राज्य की सभी शराब की दुकानों को लॉकडाउन के चलते बंद कर दिया गया है।

पिनाराई विजयन के नेतृत्व वाले लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) ने उन लोगों के लिए शराब उपलब्ध कराने के दिशा-निर्देश जारी किए, जो दुकानें बंद होने पर शराब न मिलने से विचलित हो रहे हैं। शराब न मिलने की वजह से केरल में करीब सात लोगों ने खुदकुशी कर ली।

राज्य सरकार ने कहा, “अपनी पहचान के लिए दस्तावेजों के साथ डॉक्टर से प्रमाण-पत्र बनवाकर नशे के लती लोग उत्पाद शुल्क कार्यालय से अपने लिए विशेष पास ले सकते हैं। एक आवेदक को सिर्फ एक ही पास दिया जाएगा। लोग डॉक्टर का प्रमाण-पत्र पाने के लिए सरकारी अस्पताल भी जा सकते हैं।

एक बार आवेदक को विशेष पास मिलता है तो वह केरल स्टेट बेवरेज कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक के पास जा सकता है, जो बिना दुकान खोले उसे शराब उपलब्ध करवाएंगे। उधर, चिकित्सा समुदाय के बीच केरल के डॉक्टरों द्वारा जारी किए जाने वाले प्रमाण-पत्र से शराब दिलवाने के फैसले ने नैतिक सवाल भी खड़े कर दिए हैं।

14 अप्रैल तक लॉकडाउन के दौरान शराब की सारी दुकानें बंद रहेंगी। इससे पूर्व, विजयन सरकार का दुकानों को बंद करवाने का निर्णय तब आया था, जब महामारी के प्रकोप के दौरान शराब की दुकानों को खुला रखने की आलोचना हुई थी। राज्य में लॉकडाउन के बावजूद दुकानों पर लंबी कतारें लगी रहती थीं।