समाचार
केरल में एलडीएफ की लगातार दूसरी बार सरकार, 50,000 मतों से जीते पिनाराई विजयन

केरल विधान सभा चुनाव में एलडीएफ ने 99 सीटों पर दर्ज की जिसमें कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्कसवादी) को 62 और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया को 17 सीटें मिलीं। वहीं, यूडीएफ को 41 सीटों पर जीत मिली जिसमें से कांग्रेस का 21 सीटों का योगदान रहा।

एनडीए के मुख्यमंत्री प्रत्याशी मेट्रोमैन ई श्रीधरन के शुरुआती रुझानों में आगे चलने के बावजूद भाजपा केरल में अपना खाता नहीं खोल सकी। इस प्रकार पिनाराई विजयन के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार 40 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए पुनः सरकार बनाने में सफल होगी।

एक्ज़िट पोल में भी एलडीएफ की बहुमत का ही अनुमान लगाया गया था। बहुमत का आँकड़ा 71 का है, जहाँ से एलडीएफ काफी आगे है। मुख्यमंत्री विजयन ने 50,123 मतों से अपनी सीट जीती। राहुल गांधी के निरंतर प्रचार के बाद यह कांग्रेस के लिए निराशाजनक हार है।