समाचार
केके शैलजा नई केरल कैबिनेट से हुईं बाहर, विजयन के दामाद रियास को मिल गई जगह

कोरोना महामारी के दौर में ‘अच्छा काम’ करने वाली केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा को नए एलडीएफ कैबिनेट में सम्मिलित नहीं किया गया। पिनाराई विजयन के दामाद पीए मोहम्मद रियास उनके नए कैबिनेट सदस्यों में सम्मिलित हैं। माकपा सचिव ए विजयराघवन की पत्नी आर बिंदू को भी नए मंत्रालय में सम्मिलित किया गया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के नेता पिनाराई विजयन को केरल के मुख्यमंत्री के रूप में दूसरे कार्यकाल के लिए मंगलवार (18 मई) को संसदीय दल का नेता चुना गया।

माकपा ने एक बयान में कहा, “पिछली सरकार में स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा और अन्य सभी पुराने कैबिनेट मंत्री नए विजयन कैबिनेट का हिस्सा नहीं होंगे, जिसमें सीपीआई (एम) के 11 नए चेहरे हैं।”

बयान में आगे कहा गया कि एलाराम करीम की अध्यक्षता वाली समिति ने पार्टी के सचेतक पद के लिए केके शैलजा और अध्यक्ष उम्मीदवार के रूप में एमबी राजेश को चुना है।

अन्य कैबिनेट सदस्यों में वीना जॉर्ज, एमवी गोविंदन, पी राजीव, केएन बालगोपाल, वी शिवनकुट्टी, वीएन वसावन, साजी चेरियन, के राधाकृष्णन और अब्दुर्रहमान हैं। विजयन और उनके मंत्रिमंडल की शपथ 20 मई को होगी।