समाचार
केरल में अपने घर के चर्च आश्रम में छह बच्चों के यौन शोषण के आरोप में पादरी गिरफ्तार

केरल पुलिस ने एक 40 वर्षीय ईसाई पादरी को लड़कों के आश्रम गृह में छह बच्चों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया। पीड़ित बच्चों ने चर्च आश्रम से भागकर अपने मात-पिता को फोन पर आप बीती सुनाई, जिसके बाद कार्रवाई की गई।

फादर जॉर्ज टीजे उर्फ जेरी कोच्चि स्थित उस लड़कों के आश्रम गृह का निदेशक था। वहाँ कथित रूप से कुल 15 बच्चे रहते थे, जिनमें से ज्यादातर गरीब घरानों से आते थे।

पादरी द्वारा कथित तौर पर शोषण किए जाने की कोशिश के बाद छह लड़के घर से भाग गए। उन्होंने अपने माता-पिता को शनिवार रात फोन कर पूरी जानकारी दी। माता-पिता की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी पादरी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला कि आरोपी पादरी पिछले साल दिसंबर से छह बच्चों का कथित तौर पर यौन शोषण कर रहा था।

आरोपी के खिलाफ पोक्सो के तहत भारतीय दंड संहिता की धारा 377, 7/8, 9डी के तहत मामला दर्ज किया गया है। जॉर्ज के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा 75 के तहत भी मामला दर्ज हुआ है। उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।