समाचार
कश्मीरी अलगाववादियों की सुरक्षा हटाए जाने के बाद यासीन मलिक गिरफ्तार
कश्मीरी अलगाववादी  नेता और जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के प्रमुख यासीन मालिक को शुक्रवार (22 फरवरी) देर रात उनके घर से गिरफ्तार कर कोठीबाग पुलिस थाने ले जाया गया।
यासीन मलिक को उनके स्थान मैसुमा से गिरफ्तार कर के ले जाया गया है।
यासीन मलिक की गिरफ्तारी अनुच्छेद 35ए के तहत हुई है जिसकी सुनवाई सर्वोच्च न्यायालय में 25 फरवरी को होने वाली थी। आपको बता दें कि अनुच्छेद 35ए के अनुसार उन सभी लोगों को सलाखों के पीछे डाला जाता है जो जम्मू और कश्मीर के स्थानीय नागरिक नहीं है और उसके बावजूद उन्होंने किसी भी प्रकार की अचल संपत्ति का अधिग्रहण किया हो।
इसी हफ्ते सरकार ने कश्मीर के अलगाववादी संगठन के 18 नेताओं सहित 155 कार्यक्रताओं की सुरक्षा को हटा दिया गया है।  गृहमंत्रालय के एक प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा है “कश्मीर के अलगाववादियों को सुरक्षा देना राज्य के संसाधनों को बर्बाद करना है हम इन संसाधनों को किसी अच्छी जगह पर लगा सकते हैं”।