समाचार
कश्मीर आईजीपी विजय कुमार बोले, “आतंकवादी मस्जिदों का गलत उपयोग कर रहे हैं”

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) विजय कुमार ने सोमवार (11 अप्रैल) को बताया कि आतंकवादियों द्वारा पंपोर, सोपोर और शोपियां में हमलों के लिए बार-बार मस्जिदों का गलत उपयोग किया गया। इनका उपयोग करके वे दहशत फैलाते हैं और बचकर भाग निकलने में सफल रहते हैं।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस महानिरीक्षक ने कहा, “19 जून 2020 को पंपोर में हमलों के लिए मस्जिद का सहारा लिया गया था। इसी तरह 1 जुलाई 2020 को सोपोर और 9 अप्रैल 2021 को शोपियां में भी हुआ था। शोपियां में सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में कुल पाँच आतंकवादी मारे गए थे। मस्जिद को नुकसान न पहुँचे इसलिए आतंकी के भाई और इमाम साहब को उसके अंदर भेजा गया था लेकिन वे नहीं माने। मस्जिद से बाहर निकलकर भागने पर उन्हें ढेर किया गया।”

उन्होंने कहा, “19 जून 2020 को पंपोर मुठभेड़ में भी आतंकियों ने जामिया मस्जिद में शरण ली थी। इस मुठभेड़ में तीन आतंकी सुरक्षाबलों द्वारा मारे गए थे। सोपोर में भी मस्जिद से दहशतगर्दों द्वारा गोलीबारी में एक सीआरपीएफ जवान और एक नागरिक की मौत हो गई थी, जबकि तीन जवान घायल हुए थे।”

पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा, “अब सार्वजनिक, मस्जिद इंतिज़ामिया, नागरिक समाज और मीडिया को आतंकवादियों के इस तरह के कृत्य की निंदा करनी चाहिए। सुरक्षाबल पूरी कोशिश और एहतियात के साथ लोहा लेते हैं और ये आतंकवादी मस्जिदों की दीवारों का सहारा लेकर गोलीबारी करते हैं। वहीं, मौका देखकर भाग निकलते हैं। ऐसा एक बार नहीं बल्कि कई बार हो चुका है।”