समाचार
कर्नाटक में कर्ज़माफी की राशि 14,000 किसानों के बैंक खातों से गायब

कर्नाटक के 14,000 किसान सदमे और पीड़ा में हैं क्योंकि राज्य सरकार द्वारा खातों में डाली गई कर्ज़माफी की राशि उनके बैंक खातों से गायब हो गई है। बैंकों का कहना है कि राज्य सरकार के आग्रह पर यह राशि वापस की गई है, द न्यूज़ मिनट  ने रिपोर्ट किया।

किसानों के खातों से यह राशि लोकसभा चुनावों के परिणामों के बाद निकलना शुरू हुई थी। “28 फरवरी को मेरे खाते में 50,000 रुपये जमा किए गए थे और 17 अप्रैल को 43,535 रुपये। मैं खुश था कि इससे मैं अपना कर्ज़ चुका पाऊँगा। अचानक से 2 और 3 जून को पूरे 93,535 रुपये मेरे खाते से गायब हो गए। जब मैंने बैंक जाकर पता किया तो बताया गया कि राज्य सरकार ने सभी बैंकों को राशि वापस करने का आदेश दिया है।”, पीड़ित किसान शिवप्पा ने बताया।

दूसरी ओर मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का कहना है कि इन अनियमितताओं के लिए केंद्र ज़िम्मेदार है। लेकिन इसके विपरीत कोपरेशन विभाग का कहना है कि राज्य सरकार ने ही राशि वापसी की माँग की थी और यह लेन-देन तब तक नहीं हो सकता जब तक तालुक समिति इसकी अनुमति न दे।