समाचार
कपिल सिब्बल पर रंजन गोगोई- महाभियोग के लिए समर्थन माँगने आए थे, घुसने नहीं दिया

राज्य सभा सांसद बनने के बाद पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई सूर्खियों में आ रहे हैं और इस बार उनका निशाना कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल हैं। टाइम्स नाऊ  से वार्ता में गोगोई ने कहा कि 2018 में तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के विरुद्ध महाभियोग लाने पर सिब्बल ने उनका समर्थन माँगा था।

2018 में सर्वोच्च न्यायालय के चार न्यायाधीशों ने प्रेस वार्ता करके मिश्रा के विरुद्ध महाभियोग लाने की बात कही थी। तब ही सिब्बल ने गोगोई से समर्थन माँगा था, हालाँकि उन्होंने बताया कि उन्होंने सिब्बल को घर में घुसने नहीं दिया था।

“व्यक्तिगत रूप पर मैं कपिल सिब्बल पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहूँगा, मगर मुझे नहीं पता कि मैंने सही किया या गलत, मगर मैं यह ज़रूर बताना चाहूँगा कि प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद वे मेरे आवास पर आए थे। वह दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर सुप्रीम कोर्ट का समर्थन माँगने आए थे। मैंने उन्हें अपने घर में आने ही नहीं दिया था।”, गोगोई ने कहा।

जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने ऐसा क्यों किया, उन्होंने बताया कि उन्हें कॉल के माध्यम से पहले ही पता चल गया था कि कपिल सिब्बल इस विषय में वार्ता के लिए उनके घर आने वाले हैं।

महाभियोग प्रस्ताव कांग्रेस पार्टी लेकर आना चाहती थी जिसका नेतृत्व सिब्बल कर रहे थे। राज्य सभा सांसद के रूप में मनोनीत होने के बाद सिब्बल ने गोगोई को “ईमानदारी से समझौता” करने वाला बताया था।