समाचार
कमलेश तिवारी हत्याकांड- लखनऊ न्यायालय में 13 आरोपियों के विरुद्ध आरोप पत्र दायर

मंगलवार 24 दिसंबर को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिंदू महासभा के पूर्व नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले से संबंधित 13 लोगों के खिलाफ लखनऊ न्यायालय में आरोप पत्र दायर किया है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार हिंदू नेता कमलेश तिवारी को 18 अक्टूबर को लखनऊ के खुर्शीद बाग इलाके में स्थित उनके निवास पर बेरहमी से मार दिया गया था।

लखनऊ (पश्चिम) के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विकास चंद्र त्रिपाठी ने कहा कि आरोप पत्र राज्य की राजधानी, लखनऊ की एक स्थानीय अदालत में 13 व्यक्तियों के खिलाफ दायर किया गया है।

वर्तमान में कमलेश तिवारी हत्याकांड के 13 आरोपियों में से 11 जेल में हैं, जबकि हत्यारों की मदद करने के आरोप में गिरफ्तार कैफी अली को न्यायालय ने जमानत दे दी थी।

पुलिस ने आरोप पत्र में हिंदू नेता के हत्यारों, अशरफ और मोइनुद्दीन पर हत्या का आरोप लगाया है।

पुलिस ने कहा कि एक अन्य आरोपी तनवीर जिसने कथित तौर पर हिंदू नेता के दोनों हत्यारों को शरण दी थी वह फिलहाल फरार है। पुलिस ने बताया कि तनवीर नेपाल का रहने वाला है।

गौरतलब है कि हिंदू नेता की मौत के बाद, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमलेश तिवारी के परिवार को 15 लाख रुपये की आर्थिक मदद और एक घर की मंजूरी दी थी।