समाचार
कैलाश विजयवर्गीय का एनआरसी और नागरिकता विधेयक पर ममता बनर्जी को पलटवार

राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (एनआरसी) और नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, “मुझे नहीं पता कि ममता बनर्जी ने भारत का संविधान पढ़ा भी है या नहीं? भारत में संघीय ढाँचे के तहत केंद्र और राज्य सरकारें अपने दायित्वों का अलग-अलग निर्वहन करते हैं। नागरिकता के संबंध में कानून बनाकर इसे संसद में पारित करना केंद्र सरकार का काम है।”

लाइव हिंदुस्तान  के अनुसार कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, “संघीय ढांचे के बारे में ममता जी भला ऐसा कैसे कह सकती हैं कि वह इस कानून (नागरिकता संशोधन विधेयक) को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी। वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हैं, बांग्लादेश की नहीं। यदि इस तरह के बचकाना बयान कोई मुख्यमंत्री देता है, तो उसके सामान्य ज्ञान पर सिर्फ हंसा जा सकता है।”

गौरतलब है कि ममता बनर्जी ने सोमवार को खड़गपुर की अपनी रैली में कहा था, “एनआरसी और नागरिकता विधेयक से डरने की कोई ज़रूरत नहीं है क्योंकि मैं इन दोनों को पश्चिम बंगाल में नहीं लागू होने दूँगी। एनआरसी और नागरिकता विधेयक एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।”

ममता ने सोमवार को यह भी कहा था, “वे (केंद्र सरकार) देश के किसी भी नागरिक को बाहर नहीं फेंक सकते, न ही उसे शरणार्थी बना सकते हैं।”