समाचार
केरल- कथित ‘लव जिहाद’ पीड़िता अखिला के पिता केएम अशोकन ने ली भाजपा की सदस्यता

पूर्व सैनिक व अखिला उर्फ हादिया के पिता केएम अशोकन ने भाजपा की सदस्यता ले ली है। बता दें कि केएम अशोकन ने अपनी बेटी की शादी रद्द करने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ी थी। उनके अनुसार उनकी बेटी अखिला के धर्म परिवर्तन तथा शादी के पीछे एक साजिश है। उनकी बेटी ने धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम युवक से शादी कर ली थी तब से वह अखिला से हादिया हो गई, एशियानेट  की रिपोर्ट में बताया गया।

सबरीमाला मंदिर के मुद्दे पर रखी गई भाजपा की बैठक में भाजपा के महासचिव बी गोपालकृष्ण ने उन्हें सदस्यता दी।

अशोकन ने बताया कि भाजपा देश की सर्वश्रेष्ठ पार्टी है इसलिए उन्होंने भाजपा की सदस्यता ली। उन्होंने कहा, “मैं सेना में था और मैं समझता हूँ कि देश के भविष्य के लिए भाजपा बहुत ज़रूरी है। भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो हिंदू संस्कृति की रक्षा करती है।”

पहले नास्तिक तथा कम्युनिस्ट पार्टी का समर्थन करने वाले अशोकन ने कहा कि वर्तमान सीपीएम सरकार गंदी वोट बैंक की राजनीति कर रही है।

उन्होंने कहा, “पहले मैं कम्युनिस्ट था लेकिन अब मैं अपनी धारणा बदलने का निर्णय ले चुका हूँ। कई मुद्दों पर पार्टी के गलत दिशा में कदमों ने मेरे ऊपर नकारात्मक प्रभाव डाला है।”

सबरीमाला मंदिर पर दिए गए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के विरोध में अशोकन भाजपा के प्रदर्शन में शामिल होना चाहते हैं।

अखिला, अशोकन की इकलौती बेटी है जिसने धर्म परिवर्तन कर इस्लाम क़बूल कर लिया था तथा इसके बाद उसने मुस्लिम युवक शफीन जहां से शादी कर ली थी।

अखिला के माता-पिता ने इस शादी का विरोध करते हुए तथा उसे “लव जिहाद” की पीड़िता बताते हुए केरल उच्च न्यायालय का रुख किया था। अदालत ने शादी को रद्द कर 24 वर्षीय अखिला को उसके पिता को सौंप दिया था। अदालत ने अखिला में उग्रवादी विचार लाने तथा उकसाने में कट्टरपंथी संगठनों की भूमिका मानी थी। अदालत ने कहा था कि लड़की कमज़ोर है तथा कई तरीकों से शोषण की चपेट में आ सकती है।

उल्लेखनीय है कि हादिया ने सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी जहाँ गत वर्ष नवंबर में उसे सलेम जाकर पराचिकित्सा (पैरामेडिकल) की पढ़ाई पूरी करने का आदेश मिला था। बाद में सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि यह पूर्णत: हादिया का निर्णय है कि उसे किससे शादी करनी है तथा इसमें कोई हस्तक्षेप नहीं कर सकता।

गौरतलब है कि कई अन्य पालकों के साथ अशोकन ने लव जिहाद के पीड़ितों की सहायता के लिए संगठन भी बनाया है।