समाचार
झाविमो का भाजपा में विलय, गृह मंत्री ने माला पहनाकर किया बाबूलाल मरांडी का स्वागत

पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी सोमवार को 14 साल बाद भाजपा में शामिल हो गए। इसके अलावा उन्होंने अपनी पार्टी का भी विलय कर दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एक कार्यक्रम के दौरान माला पहनाकर उनका स्वागत किया।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, कार्यक्रम के दौरान मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा, “मैं जब 2014 में भाजपा अध्यक्ष बना था, तभी से बाबूलाल मरांडी को पार्टी में लाने की कोशिश कर रहा हूँ। उन्हें मनाना आसान नहीं था। वह झारखंड के लोगों की इच्छा के अनुसार भाजपा में शामिल हुए हैं।”

कहा जा रहा है कि मरांडी को पार्टी में बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। विलय के बाद संगठन के स्वरूप और उनकी भूमिका पर चर्चा चल रही है। भाजपा ने भी उन्हें मजबूत कार्यभार सौंपने की बात कही है। हालाँकि, मरांडी ने बिना किसी पद की इच्छा के एक सामान्य कार्यकर्ता के रूप में पार्टी में शामिल होने की इच्छा जताई थी।

मरांडी के भाजपा के विधायक दल के नेता के रूप में चुने जाने की संभावना है क्योंकि भाजपा ने अब तक विधायक दल का नेता चुना नहीं है। माना जाता है कि मरांडी के लिए यह पद खाली पड़ा है।

उधर, झारखंड विकास मोर्चा से निकाले गए दो विधायक प्रदीप यादव और बंधु तीर्की सोमवार को कांग्रेस में शामिल होंगे। झारखंड कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह की मौजूदगी में वे पार्टी में शामिल होंगे। हालाँकि, पार्टी में प्रदीप को शामिल किए जाने का विरोध हो रहा है। इरफान अंसारी ने उनके पार्टी में शामिल होने पर विरोध स्वरूप कार्यकारी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने का ऐलान किया है।