समाचार
जेएनयू में छात्रों के विरोध के दौरान स्वामी विवेकानंद की मूर्ति के साथ तोड़-फोड़

स्वामी विवेकानंद की जिस मूर्ति का शीघ्र ही अनावरण होने वाला था, उसके साथ जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने तोड़-फोड़ की है, टाइम्स नाऊ  ने रिपोर्ट किया।

विश्वविद्यालय के सुरक्षा अधिकारियों ने रिपोर्ट के अनुसार इस घटना को चित्रों-वीडियो में कैद किया है। इन साक्ष्यों का उपयोग जाँच में और ऐसा करने वालों को दंड देने में किया जाएगा।

पहचाने जाने वाले छात्रों को अधिकतम दंड दिया जाएगा और विश्वविद्यालय से निष्कासित किया जाएगा, रिपोर्ट में दावा किया गया। उन छात्रों को उकसाने वाले अन्य छात्रों पर 20,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा और उन्हें छात्रावास से भी निकाला जा सकता है।

इससे पहले दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू), जामिया और अन्य महाविद्यालयों के छात्रों, शिक्षकों के साथ अखिल भीरतीय छात्र संघ जैसे संगठनों ने जेएनयू में शुल्क बढ़ाने का विरोध किया था।

सोमवार(11 नवंबर) को सहस्रों जेएनयू छात्रों की प्रदर्शन के दौरान पुलिस से भी भिड़ंत हुई थी। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह के दौरान पाँच घंटों तक बंद करके रखा गया था।