समाचार
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों का हमला, दो जवान शहीद, तीन घायल

जम्मू-कश्मीर के दक्षिण पुलवामा में सुरक्षाबलों पर सोमवार (5 अक्टूबर) को आतंकवादियों ने हमला कर दिया। इस दौरान जवाबी कार्रवाई में सीआरपीएफ की 110 बटालियन के दो जवान शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों का अस्पताल में उपचार किया जा रहा है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकवादियों ने यह हमला पंपोर में तंगन बाइपास पर स्थित कंडीजाल पुल के पास पुलिस और सीआरपीएफ के संयुक्त दल पर किया था। इस पर से प्रतिदिन सैन्य वाहन गुज़रते हैं। यहाँ पर सीआरपीएफ की 110 बटालियन की रोड ओपनिंग पार्टी और पुलिस के जवान तैनात रहते हैं।

आतंकी नाके के पास ही कहीं छिपे हुए थे, जहाँ से उन्होंने मौका पाकर सुरक्षाबलों पर हमला कर दिया था। करीब 25 मिनट तक दोनों तरफ से गोलीबारी हुई। उसके बाद मौका देखकर आतंकी फरार हो गए। सुरक्षाबलों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद कर आतंकियों की धरपकड़ के लिए तलाशी अभियान चलाया। हालाँकि, काफी घंटे की मशक्कत के बाद अभियान खत्म कर दिया गया।

जम्मू-कश्मीर के आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने आतंकियों की पहचान का दावा किया है। उन्होंने कहा, “हमले की पीछे लश्कर-ए-तैयबा के संगठन का हाथ है। हमले में दो आतंकी शामिल थे, जिनकी पहचान कर ली गई है और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।”

मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों की पहचान चालक धीरेंद्र और कॉन्स्टेबल शैलेंद्र कुमार के रूप में हुई है। वहीं, घायल जवानों का उपचार 92 बेस अस्पताल में किया जा रहा है।