समाचार
कश्मीर को विवादित क्षेत्र कहने पर जम्मू-कश्मीर बार एसोसिएशन को तीन नोटिस जारी

जम्मू-कश्मीर बार एसोसिएशन (जेकेएचसीबीए) के कश्मीर को विवादित क्षेत्र करार दिए जाने के बाद सरगर्मी बढ़ गई है। ऐसे में प्रशासन ने उसे कानूनी नोटिस जारी की हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, निकाय के किसी भी चुनाव पर तब तक रोक लगा दी गई है, जब तक कि वह कश्मीर को एक विवादित क्षेत्र करार देने पर अपनी स्थिति स्पष्ट नहीं कर देता है।

जिलाधिकारी शाहिद इकबाल चौधरी ने बार एसोसिएशन के अध्यक्ष को तीन नोटिस जारी कर कहा है, “वह अपने संविधान की व्याख्या करें, जो कश्मीर को पूर्वोक्त मानते हैं।” निकाय को अपने संबंधित दस्तावेज श्रीनगर के उपायुक्त को प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया गया है। इनमें एसोसिएशन और पंजीकरण पत्रों के लेख शामिल हैं।

जिलाधिकारी चौधरी द्वारा भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि इस विषय पर बार एसोसिएशन की स्थिति भारत के संविधान के अनुरूप नहीं है, जिसके तहत जम्मू-कश्मीर राष्ट्र का अभिन्न अंग है और विवाद नहीं है। नोटिस में इस बात पर भी जोर दिया गया कि बार एसोसिएशन का दावा 1961 के द एडवोकेट्स एक्ट के विरोध में था।

डीएम चौधरी ने श्रीनगर में जिला अदालत परिसर में सीआरपीसी की धारा 144 भी लगाई है, ताकि किसी भी कानून-व्यवस्था की गड़बड़ियों से बचा जा सके।