समाचार
नीरज प्रजापति की मौत के मामले में 16 गिरफ्तार, पीड़ित परिवार को दान किए 15 लाख

झारखंड के लोहरदगा में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थन को लेकर निकाली गई तिरंगा रैली पर हुए हमले में मूर्ति बनाने वाले कलाकार नीरज प्रजापति की मौत हो गई थी। इस सिलसिले में पुलिस ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है।

न्यूज़ 18 की खबर के अनुसार, नीरज प्रजापति सीएए समर्थन में निकाली जा रही रैली का हिस्सा थे। उनके सिर पर रॉड से हमला किया गया था। एक दुकान में छिपकर अपनी जान बचाने के बाद वह घर पहुँचे और बेहोश होकर गिर पड़े। उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहाँ सोमवार (27 जनवरी) को उनकी मौत हो गई।

पुलिस ने दावा किया कि प्रजापति की मौत कार्डियक अरेस्ट, सेप्टिक शॉक फॉर्म ब्रेन स्टेम ब्लीड के चलते हुई है। हालाँकि, मृतक के परिवार के लोगों ने पुलिस पर इस मामले को दबाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

पेशे से कलाकार और मूर्ति बनाने वाले प्रजापति एक मामूली पृष्ठभूमि से आते थे। उनकी एक पत्नी और दो बच्चे हैं। उनके परिवार की स्थिति को देखते हुए ओपइंडिया हिंदी ने आर्थिक मदद जुटानी शुरू कर दी और एक ही दिन में पीड़ितों के लिए 15 लाख रुपये की राशि एकत्र कर दान कर दी।