समाचार
जेडीएस कार्यकर्ताओं ने लगाए मोदी समर्थक नारे, कांग्रेस से मतभेद हुए उजागर

मैसूरु में मंत्रिमंडल की एक बैठक में जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने हार के आसार महसूस करते हुए, बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नारे लगाए, डेक्कन हेराल्ड  ने रिपोर्ट किया।

पार्टी के कार्यकर्ता उस बैठक में प्रतिकूल हो गए जिसमें जेडीएस पार्टी के नेता, जीटी देवेगौड़ा और सारा महेश, कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार सीएच विजयशंकर के चुनाव प्रचार पर विचार करने के लिए एकत्रित हुए थे। पार्टी का कांग्रेस के साथ गठबंधन ही मसले की जड़ था।

जेडीएस के नेता और कर्नाटका के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि कांग्रेस उनके बेटे निखिल कुमार के चुनाव प्रचार के लिए कुछ नहीं कर रही है, और इसी के साथ उसे मांडया चुनावी क्षेत्र में आगामी लोकसभा चुनावों में हराने की तकसीम लगा रही है। इस मुद्दे को जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन के बीच विवाद का कारण माना जा रहा है।

मामला उस समय ज़्यादा गंभीर हो गया जब जनता दल सेक्युलर के प्रमुख एचडी देवगौड़ा ने बैठक के बाद पत्रकारों से कहा “अगर विजयशंकर हारते हैं तो इसके लिए जेडीएस ज़िम्मेदार नहीं होगी। हमने हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं के समझने की कोशिश की है पर मतभेद उस प्रकार बने हुए हैं। हम हमारा कार्य करेंगे। जब एच विश्वनाथन हारे थे तो उस समय सिद्दारमैया मुख्यमंत्री थे, तो क्या उस समय वह ज़िम्मेदार थे? तो उसी तरह अब हम कैसे ज़िम्मेदार हो सकते हैं?