समाचार
केरल के निलंबित डीजीपी जैकब थॉमस ने कहा, ‘श्रीराम का जप देश में ज़रूरी है’

केरल में निलंबित चल रहे डीजीपी जैकब थॉमस ने कहा, “जय श्रीराम का जप अब देश में और ज़्यादा होना चाहिए। भारत में जो राक्षसी कार्य हो रहे हैं, उसे देखते हुए श्रीराम का जप ज़रूरी है।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, जैकब थॉमस को 2017 में ओखी चक्रवात की स्थिति से निपटने को लेकर सरकार के खिलाफ बयान देने पर निलंबित कर दिया गया था। हालाँकि, केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण (कैट) ने उन्हें बहाल करने का आदेश दे दिया है।

निलंबित डीजीपी ने एक रामायण उत्सव के कार्यक्रम में भगवान राम को सत्यता, धार्मिकता, न्याय और नैतिकता का अवतार बताया। उन्होंने कहा, “हम ऐसा देश नहीं बन सकते, जहाँ जय श्रीराम कहना गैरकानूनी हो। यह सही समय है और हमें ज्यादा से ज्यादा जय श्रीराम कहना चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा, “केरल के पलक्कड़ में आदिवासी मधु की भीड़ द्वारा हत्या, चावक्कड़ में एक राजनीतिक कार्यकर्ता की हत्या जैसी घटनाओं से पता चलता है कि राम के प्रतिनिधित्व वाले मूल्यों को बनाए रखने की कितनी ज़रूरत है।” उन्होंने अपने संबोधन को जय श्रीराम और एक मंत्र के साथ खत्म किया।