समाचार
शिनजियांग में मुस्लिमों पर अत्याचार पर चीन “आतंकवाद की बात, मानवाधिकार की नहीं”

चीन के शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम अल्पसंख्यकों को लेकर उठाए जा रहे कदमों की हो रही आलोचनाओं के जवाब में उसने कहा कि किसी भी इस्लामिक देश ने उसके खिलाफ आवाज़ नहीं उठाई है। सिर्फ पश्चिम के विकसित देश ही हमारी आलोचना कर रहे हैं।

सीजीटीएन की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को एक नियमित प्रेसवार्ता के दौरान शिनजियांग मुद्दे पर किए गए सवाल के जवाब में चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, “चीन की आलोचना करने वाले सभी 24 देशों में पश्चिम के विकसित देश हैं, जिनकी कुल आबादी सिर्फ 600 मिलियन है। कोई भी मुस्लिम या विकासशील देश ऐसा नहीं कह रहा है। चीन की आलोचना करने वाले देश एशिया, अफ्रीका, लैटिन अमेरिका और यूरोप जैसे महाद्वीपों में पाए जाते हैं।”

चुनयिंग ने कहा, “यह मुद्दा आतंकवाद और उग्रवाद से लड़ने के बारे में है, धर्म और मानव अधिकारों के बारे में नहीं है।” साथ ही उन्होंने यह भी कहा, “चीन की आलोचना करने वाले 24 देश भी आतंकवाद और चरमपंथी के शिकार हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “पिछले तीन वर्षों में झिंजियांग में कोई आतंकवादी हमला होते हुए नहीं देखा गया है। चीन सरकार द्वारा किए गए उपाय बहुत प्रभावी हैं। यह इसी का ही नतीजा है।”