समाचार
कनाडा में शरियत कानून को लागू करने की उठ रही है माँग

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कनाडा का मुस्लिम युवक पत्रकार से बातचीत में शरिया कानून लाने की बात कर रहा है। उसकी माँग है कि कनाडा के संवैधानिक कानून की जगह शरिया कानून को लाया जाए।

पत्रकार ने उससे पूछा कि समलैंगिक होने पर शरिया कानून के तहत उनको दंडित किया जाएगा। इस पर वह कहता है, “चूँकि समलैंगिकता को इस्लाम में स्वीकार नहीं किया गया है इसलिए समलैंगिकों को शरिया कानून के तहत मार दिया जाता है।” उस व्यक्ति ने शरिया कानून की तुलना वर्तमान कानून प्रणाली से करते हुए कहा, “जिस तरह कनाडाई कानूनी प्रणाली में नियम तोड़ने वालों को सजा दी जाती है, उसी तरह शरिया कानून का पालन नहीं करने वालों को इस्लामिक राज्य में सजा दी जाएगी।”

पत्रकार ने उस व्यक्ति से पूछा कि क्या आप कनाडा में शरिया कानून चाहते हैं। इस पर उसने कहा, “कुछ बिंदुओं पर यह होगा।” उसने आगे कहा, “आप जानते हैं कि हमारे पास एक परिवार है। हम बच्चे बना रहे हैं और आप लोग नहीं। आपकी आबादी घटती जा रही है।” उसने आगे कहा, “मुसलमान 2060 तक दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक समुदाय बनने जा रहा है। यह आपका संस्थान प्यू रिसर्च इंस्टीट्यूट कह रहा है।”

पत्रकार ने पूछा कि तो आप क्या करने जा रहे हैं? क्या तब फिर आप शरिया का विरोध करेंगे। तब वह व्यक्ति कहता है कि मुस्लिम बहुसंख्यक राष्ट्र ऐसा होने जा रहा है जैसा कि मूल अमेरिकियों की भूमि में पश्चिम बहुमत वाला राष्ट्र था। हम कनाडा में एक मुस्लिम बहुल राष्ट्र हो सकते हैं।”

पत्रकार ने शरिया कानून के तहत समलैंगिंको को मारने वाली बात रखी है तो व्यक्ति सहमत दिखा कि समलैंगिकों को फाँसी दी जा सकती है। वह कहता है, “मुस्लिम होने की वजह से कनाडा में मुस्लिमों को सताया जा रहा है।