समाचार
आईएसआई भारत में गैंगस्टरों को सौंप रही हमले का दायित्व, खुफिया एजेंसियाँ सतर्क

भारत में अपने मंसूबे में नाकाम हो रहे आईएसआई और उसके आतंकी संगठन अब स्थानीय गैंगस्टरों को हमले का दायित्व सौंप रहे हैं। इसको लेकर भारतीय सुरक्षा और खुफिया एजेंसियाँ सतर्क हो गई हैं।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में चंडीगढ़ की खुफिया इकाई ने सभी खुफिया एजेंसियों को आतंकी-गैंगस्टर गठजोड़ को लेकर सावधान किया। उन्होंने कहा, “आईएसआई और आतंकी समहू इन गैंगस्टरों के साथ संपर्क में हैं। वे उन्हें भारत में हमलों को अंजाम देने का काम दे रहे हैं। इनमें से कुछ भगोड़े अपराधी हैं तो कुछ जेलों में बंद हैं।”

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा, “आतंकी समूह बेहद प्रभावशाली गैंगस्टर्स से संपर्क कर सकता है या पहले से ही संपर्क में है। केंद्रीय खुफिया एजेंसी की पंजाब यूनिट ने कुछ दिन पहले अलर्ट भेजा था। इसमें उन्होंने कहा था, “आईएसआई और दूसरे आतंकी समूह ने पाँच गैंगस्टरों को कुछ नेताओं को निशाना बनाने का काम दिया है।”

इनमें दो भगौड़े हैं और पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। वहीं, तीन पंजाब की अलग-अलग जेलों में बंद हैं। स्थानीय पुलिस को इनकी निगरानी की ज़िम्मेदारी दी गई है। एक अधिकारी ने जानकारी दी कि आईएसआई को ऐसा इसलिए करना पड़ रहा क्योंकि जिस लोकल स्लीपर सेल पर आतंकी संगठन निर्भर रहते थे, उन्हें खत्म कर दिया गया है। स्थानीय स्लीपर सेल्स को कंट्रोल करने के लिए शीर्ष स्तर का कमांडर भी नहीं बचा है।