समाचार
आईआरसीटीसी- लिस्टिंग के बाद ई-टिकटिंग से मुनाफा दोगुना, 14 प्रतिशत की लाभ वृद्धि

इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) ने लिस्टिंग के बाद अपनी पहली कमाई की घोषणा में 14 प्रतिशत की लाभ वृद्धि दर्ज की। वित्त वर्ष 2019-2020 की पहली छमाही में ऑनलाइन ई-टिकटिंग अनुभाग के लगभग दोगुना हो जाने के कारण यह संभव हो पाया है।

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, आईआरसीटीसी ने बुधवार को कहा, “ऑनलाइन टिकटिंग अनुभाग के राजस्व में अप्रैल-सितंबर की अवधि में 80 प्रतिशत से 199 करोड़ रुपये तक का उछाल आया, जबकि वित्तीय वर्ष 2018-2019 की इसी अवधि में यह 110 करोड़ रुपये था। समीक्षाधीन अवधि में 937 करोड़ रुपये के मुकाबले भारतीय रेलवे की सहायक कंपनी का कुल राजस्व 4 प्रतिशत बढ़कर 973 करोड़ रुपये हो गया।

आईआरसीटीसी स्टॉक 14 अक्टूबर 2019 को शेयर बाजारों में सूचीबद्ध किया गया था। वित्तीय परिणाम 30 सितंबर 2019 को 6 महीने की अवधि के लिए तैयार किए गए। यह तिमाही आधार पर वित्तीय खातों को बंद करने के किसी भी पिछले अभ्यास की अनुपस्थिति में किया गया था। पर्यटन, खानपान और बोतलबंद पानी वितरण जैसे भारतीय रेलवे के राजस्व-सृजन वाले खंडों ने भी राजस्व में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की।

भारतीय रेलवे फर्म के स्टॉक ने अपनी आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) के दौरान प्रस्ताव मूल्य से तीन गुना वृद्धि दर्ज की है, जो कि 320 रुपये के शेयर के मूल्य स्तर से लगभग 200 प्रतिशत की वापसी है।