समाचार
बाबरी मस्जिद के पक्षकार बोले, “प्रधानमंत्री मोदी करें राम मंदिर निर्माण की शुरुआत”

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि वह अयोध्या आएँ और राम मंदिर निर्माण की शुरुआत करें।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, इकबाल अंसारी ने कहा, “उनके पिता मरहूम हाशिम अंसारी और न्यास के प्रथम अध्यक्ष महंत रामचंद्रदास दोनों मित्र थे। वे साथ में मंदिर और मस्जिद का मुकदमा लड़ते थे। दोनों की मित्रता अयोध्या में गगा-जमुनी तहजीब की मिसाल थी।”

बाबरी मस्जिद के पक्षकार के अलावा, दिगंबर अखाड़ा के मंहत सुरेशदास और रामलला के प्रधान अर्चक आचार्य सत्येंद्रदास ने भी प्रधानमंत्री के हाथों से मंदिर की आधारशिला रखने की अपेक्षा जताई है। महंत सुरेश दास ने बताया, “इसके लिए हमने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र भेजा है।”

संतों का कहना है कि राम मंदिर का शिलान्यास उसी पत्थर से किया जाना चाहिए, जिसे 2002 में राम जन्मभूमि न्यास के प्रथम अध्यक्ष साकेतवासी परमहंस रामचंद्रदास ने प्रधानमंत्री के दूत आईएएस अधिकारी शत्रुघ्न सिंह को सौंपा था।

बता दें कि श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास ने कहा था, “20 जनवरी को प्रयागराज में होने जा रही केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक में राममंदिर निर्माण और ट्रस्ट पर मंथन किया जाएगा। अब राममंदिर निर्माण में देरी नहीं होनी चाहिए।”