समाचार
“हैदराबाद कांड के दो आरोपी नौ और महिलाओं से दुष्कर्म कर उन्हें जला चुके थे”- पुलिस

हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक की दुष्कर्म के बाद हत्या में शामिल चार में से दो आरोपी नौ और महिलाओं के साथ ऐसा ही कर चुके थे। मामले की जाँच करने वाले पुलिस अधिकारियों ने बताया, “पूछताछ में दो आरोपियों ने स्वीकारा था कि उन्होंने नौ और महिलाओं के साथ दुष्कर्म करके उन्हें जला दिया था।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में चारों आरोपी पहले ही मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं। साइबराबाद पुलिस आरोपियों से मिली जानकारी के आधार पर कर्नाटक में पड़ताल कर रही है क्‍योंकि इनमें से कुछ घटनाएँ तेलंगाना-कर्नाटक के सीमावर्ती इलाकों में हुई थीं।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “हिरासत में लेने के बाद हम तेलंगाना और कर्नाटक हाई-वे पर महिलाओं के साथ दुष्कर्म और जलाकर मारने की 15 वारदातों की जाँच कर रहे थे। चार आरोपियों में से दो ने नौ घटनाओं में अपने शामिल होने की बात मान ली थी।”

तेलंगाना पुलिस का दावा है कि आरिफ छह मामलों में शामिल था और चेन्‍नाकेशववुलू ने तीन महिलाओं की दुष्कर्म के बाद हत्या की थी। टीओआई को पुलिस ने बताया, “दोनों आरोपियों ने तेलंगाना के संगा रेड्डी, रंगा रेड्डी, महबूबनगर हाइवे और कर्नाटक के सीमावर्ती शहरों में ये अपराध किए थे।”

पुलिस अधिकारियों ने बताया, “आरिफ और चेन्‍नाकेशववुलू ने कुबूला कि उन्‍होंने हाइवे पर वेश्‍याओं, हिजड़ों समेत कई महिलाओं का यौन शोषण किया था। हालाँकि, नौ मामलों में उन्‍होंने महिलाओं को उसी तरह जलाकर मारा था जैसे पशु चिकित्‍सक की हत्‍या की थी।”