समाचार
स्वदेशी हल्का लड़ाकू विमान मार्क 2 अगले वर्ष लॉन्च होगा, 2023 में पहली उड़ान भरेगा

भारत में अगले वर्ष अगस्त 2022 में हल्का लड़ाकू विमान (एलसीए)-मार्क 2 के लॉन्च होने की अपेक्षा है।

पाँचवीं पीढ़ी के उन्नत मध्यम लड़ाकू विमान (एएमसीए) के विन्यास को तय कर दिया गया और प्रारंभिक डिज़ाइन भी पूरी हो गई है। वहीं, तेजस-मार्क 2 को 4.5 पीढ़ी कहा जाता है। एएमसीए को भारत की पाँचवीं पीढ़ी का लड़ाकू विमान कार्यक्रम कहा जाता है।

वैमानिकी विकास एजेंसी (एडीए) और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा एलसीए-मार्क 2 डिज़ाइन किया गया एकल-इंजन बहुउपयोगी लड़ाकू विमान है।

द हिंदू ने एडीए के कार्यक्रम निदेशक (लड़ाकू विमान) और निदेशक गिरीश एस देवधारे के हवाले से कहा, “विस्तृत डिज़ाइन पूरा हो गया है। वास्तव में हम महत्वपूर्ण डिज़ाइन समीक्षा चरण में हैं और धातु की कटाई बहुत जल्द शुरू हो जाएगी। विमान (मार्क 2) को अगले वर्ष लाने और 2023 की शुरुआत में इसकी पहली उड़ान भरने की योजना है। हम इन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अच्छी तरह से मार्ग पर आगे बढ़ रहे हैं।”

पहली बार विमान में ऑक्सीजन उत्पादन प्रणाली को भी एकीकृत किया जा रहा है। स्कैल्प, क्रिस्टल मेज़ और स्पाइस-2000 वर्ग के भारी हथियारों को भी मार्क 2 में एकीकृत किया जाएगा।

इसके उत्पादन के लिए रक्षा मंत्रालय ने भारतीय वायुसेना को 83 एलसीए-मार्क 1ए की आपूर्ति करने हेतु इस वर्ष फरवरी में एचएएल के साथ 48,000 करोड़ रुपये के सौदे पर हस्ताक्षर किए, जिसके पास प्रारंभिक परिचालन स्वीकृति में एलसीए का एक स्क्वॉड्रन है।