समाचार
भारत ने अमेरिका और चीन को निर्यात में दर्ज की बड़ी वृद्धि तथा आयात में गिरावट

भारत ने सितंबर को समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष-21 के पहले छह महीनों में संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएस) और चीन को निर्यात करने में एक महत्वपूर्ण छलांग दर्ज की है, जबकि दोनों देशों से आयात में महत्वपूर्ण गिरावट भी दर्ज की गई है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, चीन को निर्यात पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में इस वर्ष अप्रैल से सितंबर के बीच पहले छह महीनों के दौरान 26.3 प्रतिशत बढ़ा है, जो कि 8.4 अरब डॉलर से बढ़कर 10.6 अरब डॉलर हो गया है। इस बीच, चीन से आयात में इसी अवधि के दौरान 24.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई, जो 36.3 अरब डॉलर से घटकर 27.4 अरब डॉलर हो गई।

इसी तरह, अमेरिका को निर्यात पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में इस महीने सितंबर में 15.5 प्रतिशत तक बढ़ गया, जो कि 4.4 अरब डॉलर से बढ़कर 5.1 अरब डॉलर हो गया। इस बीच, इसी अवधि में अमेरिका से आयात 34.3 प्रतिशत घटकर 2.8 अरब डॉलर से घटकर 1.8 अरब डॉलर रह गया।

चीन और अमेरिका को निर्यात करने में छलांग सरकार के मेक इन इंडिया कार्यक्रम और आत्मनिर्भर भारत के लिए अच्छा संकेत है। इनका उद्देश्य अन्य देशों पर राष्ट्र की निर्भरता को कम करना है, जबकि विनिर्माण गतिविधियों को बढ़ावा देना है।