समाचार
रेलवे सेना की परिचालन ज़रूरतों को देखते हुए दो सैन्य विशेष ट्रेनें चलाएगा

भारतीय रेलवे लॉकडाउन-2 के बीच देश की उत्तरी और पूर्वी सीमाओं की संचालन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए क्रमशः 17 और 18 अप्रैल को बेंगलुरु से जम्मू और गुवाहाटी के लिए दो सैन्य विशेष ट्रेनें चलाएगा।

कोविड-19 महामारी की वजह से यात्री ट्रेनों का संचालन बंद है इसलिए इन दोनों ट्रेनों को सेना की आवाजाही के लिए चलाने की विशेष अनुमति दी गई है।

एक ट्रेन 17 अप्रैल को बेंगलुरु से चलकर बेलगाम, सिकंदराबाद, अंबाला, जम्मू तक चलेगी। दूसरी ट्रेन शनिवार को (18 अप्रैल) बेंगलुरु से बेलगाम, सिकंदराबाद, गोपालपुर, हावड़ा, न्यू जलपाईगुड़ी तक जाएगी।

सुबह 10 बजे बेंगलुरु से यात्रा शुरू होगी और दोनों ट्रेनों में पैंट्री कार के साथ 24 कोच होंगे। सूत्रों के अनुसार, देश के विभिन्न हिस्सों में 1,000 से अधिक सेना के जवानों और अधिकारियों के बेंगलुरु से अपनी पोस्टिंग की यात्रा करने की संभावना है।

इन जवानों को अनिवार्य क्वारंटाइन अविधि से गुजरना पड़ा है। इनमें से कई को मेडिकल फिट पाया गया है। सूत्रों की मानें तो सभी नॉन-एसी कोचों को सही तरीके से साफ किया जा रहा है। सफर करने वालों को भी सामाजिक दूरी बनाकर चलने को कहा गया है।

हालाँकि, पूरे देश में आवश्यक वस्तुओं के परिवहन की सुविधा के लिए माल ढुलाई सेवा जारी है। उत्तर रेलवे ने अन्य जोनल रेलवे के सहयोग से आपूर्ति को सुनिश्चित करने के लिए पार्सल कारगो एक्सप्रेस रेलगाड़ियों के संचालन को मई तक बढ़ाने का निर्णय लिया है। वर्तमान में ये पार्सल ट्रेनें 65 मार्गों पर संचालित की जा रही हैं।

इस बीच, रेलवे ने संक्रमण से लड़ने के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों (पीपीई) के निर्माण को बढ़ा दिया है। रेलवे अप्रैल में 30,000 और मई में एक लाख का निर्माण करेगा।