समाचार
भारतीय रेल विकसित करेगा तकनीक, सार्वजनिक होगी सीट उपलब्धता जानकारी

आरक्षित सीटों के लिए यात्रियों की परेशानी के निवारण हेतु केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मंत्रालय के अधिकारियों को हवाई यात्रा टिकट बुकिंग प्रणाली की तर्ज पर एक ऐसी प्रणाली विकसित करने के आदेश दिए हैं जिससे यात्रियों को ट्रेन में रिक्त सीटों की जानकारी मिल सकेगी, टाइम्स ऑफ इंडिया  की रिपोर्ट में बताया गया।

रेलवे बोर्ड को मंत्री से आदेश मिले हैं कि वे आरक्षण सॉफ्टवेयर में ऐसा तंत्र लगाएँ जिससे सीटों की उपलब्धता की जानकारी का डाटा सार्वजनिक तथा पारदर्शी किया जा सके।

गोयल को कई शिकायतें मिली थीं कि यात्रियों को अंतिम आरक्षण चार्ट बनने के बाद भी खाली सीटों की जानकारी नहीं होती तथा उन्हें इस जानकारी के लिए यात्रा टिकट परीक्षक (टीटीई) पर निर्भर होना पड़ता है जिससे उलझनें पैदा होती हैं।

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम (सीआरआईएस) को स्थान देखने के लिए कहा जाएगा जहाँ पर यात्रीगण किसी भी समय सीटों की उपलब्धता की जानकारी ले सकेंगे। टीओआई की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी गई।

रेलवे आरक्षण चार्ट को मोबाइल या अन्य प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराने हेतु भी मार्ग ढूंढ रहा है। वहीं इस चार्ट में केवल पीएनआर क्रमांक ही होंगे जिससे यात्रियों की निजता सुनिश्चित की जा सके।

रेलवे अधिकारियों के अनुसार हर समय सीटों की उपलब्धता की जानकारी अपडेट करना चुनौतीपूर्ण है क्योंकि प्रत्येक ट्रेन के एक से अधिक स्टॉप होते हैं तथा यात्री किसी भी स्टॉप से चढ़ सकते हैं और उतर सकते हैं।