समाचार
प्रदर्शन न कर पा रहे पदाधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देगा भारतीय रेलवे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर भारतीय रेलवे ऐसे संयुक्त सचिव से ऊपर के पदाधिकारियों की सूची बना रहा है जिनका प्रदर्शन अच्छा नहीं है। इन्हें अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी जाएगी, टाइम्स ऑफ इंडिया  ने रिपोर्ट किया।

रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस माह के अंत तक प्रदर्शन न कर रहे अधिकारियों की सूची बनाने के लिए कहा है। वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों ने बताया कि जो पदाधिकारी सूची में होंगे, उन्हें अगले दो हफ्तों में अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी जाएगी।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि 30 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले या 55 वर्ष की आयु से अधिक के पदाधिकारियों के प्रदर्शन की जाँच करना नियमों में भी है लेकिन अब इसका पूर्णतः पालन किया जाएगा।

इंफ्रास्ट्रक्चर सचिवों की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय रेलवे को यह निर्देश दिया था, सूत्रों ने बताया। बैठक के बाद रेलवे ने हाल ही में वरिष्ठ अधिकारियों का मुख्यालय से विभिन्न ज़ोनों में भी स्थानांतरण किया था, ताकि ज़मीनी स्तर पर कार्य के लिए अधिक लोग उपलब्ध रहें।