समाचार
रेलवे का हवाई अड्डों की तरह 90 स्टेशनों का संचालन निजी कंपनियों को देने पर विचार

निजी कंपनियों द्वारा चलाए जाने वाले हवाई अड्डों की तर्ज पर भारतीय रेलवे 90 स्टेशनों का संचालन निजी कंपनियों द्वारा करने पर विचार कर रही है।

भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम (आईआरएसडीसी) द्वारा उठाए गए कदम से निजी कंपनियों को सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) मॉडल के तहत कुछ स्टेशनों को चलाने और संचालित करने की उम्मीद है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बोर्ड ने आरपीएफ और सभी जोनल रेलवे के प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्तों को लिखे पत्र में उनकी सलाह मांगी है कि 90 स्टेशनों के लिए सुरक्षा का बुनियादी ढाँचा कैसे स्थापित किया जाए।

यह हवाई अड्डों के मॉडल को दोहराने के लिए विकल्पों में से एक होगा, जहाँ हवाई अड्डे पर सुरक्षा की मुख्य ज़िम्मेदारी केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के अधीन होती है और उनके वेतन का भुगतान अनुबंध करने वाली कंपनी करती है।

सुरक्षा निदेशालय द्वारा जिन दो और विकल्पों पर विचार किया जा सकता है, उनमें स्टेशन सुविधा प्रबंधन (एसएफएम) शामिल हैं। इसमें उपयोग में लगाए जाने वाले लोगों की लागत के साथ सुरक्षा बुनियादी ढाँचे और उपकरणों के प्रावधान व रखरखाव की जिम्मेदारी है। अन्य विकल्प में, यह जिम्मेदारी इसके बजाए रेलवे द्वारा वहन की जा सकती है।