समाचार
भारतीय तटरक्षक बल में सम्मिलित किए गए स्वदेशी 16 उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर एमके-3

भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने शनिवार (12 जून) को उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर (एएलएच) एमके-3 को सम्मिलित किया। इन अत्याधुनिक हेलीकॉप्टरों को स्वदेशी रूप से बेंगलुरु स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने डिज़ाइन और निर्मित किया है।

कार्यक्रम में रक्षा सचिव डॉ अजय कुमार ने आईसीजी के लिए उन्नत हेलीकॉप्टरों के महत्व पर प्रकाश डाला, ताकि तटरक्षक अभियानों के सभी क्षेत्रों में इनका उपयोग किया जा सके।

एएलएच एमके-3 समुद्री संसकरण को आईसीजी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 19 अतिरिक्त उपकरण लगाकर विकसित किया गया है। एचएएल अगले वर्ष के मध्य तक भारतीय तटरक्षक बल को 16 एएलएच एमके-3 की आपूर्ति करेगा।

रक्षा सचिव ने हाल ही में दवाओं और हथियारों को अच्छी तरीके से लाने-ले जाने और चक्रवात ताउते व यास के दौरान लोगों की जान बचाने के लिए आईसीजी की सराहना करते हुए कहा था कि क्षमता और सामर्थ्य वृद्धि को समयबद्ध तरीके से पूरा किया जाना चाहिए।

16 एएलएच एमके-3 की आपूर्ति के बाद उन्हें भुवनेश्वर, पोरबंदर, कोच्चि और चेन्नई के चार तटरक्षक स्क्वाड्रनों में तैनात किया जाएगा। इनकी मदद से ये स्क्वाड्रन निर्बाध रूप से समुद्री सीमाओं की निगरानी करेंगे और समुद्र संकट के वक्त मछुआरों की सहायता करेंगे।