समाचार
चीन द्वारा जवानों को बंधक बनाने की एनडीटीवी की खबर को भारतीय सेना ने बताया झूठा

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच तनाव के बीच एनडीटीवी ने खबर चलाई थी कि पिछले सप्ताह कुछ भारतीय जवानों को चीन ने बंधक बना लिया था। अब इस तरह की खबरों को भारतीय सेना ने पूर्णत: गलत बताया है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना की ओर से प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने कहा, “हम इस तरह की खबरों का खंडन करते हैं। मीडिया इस तरह की गलत खबरें चलाता है तो इससे सिर्फ राष्ट्रीय हित को नुकसान पहुँचता है।”

मीडिया के सूत्रों के हवाले से यह खबर आई थी कि पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में पिछले हफ्ते चीन के सैनिकों ने सेना के गश्ती दल को बंधक बना लिया था। बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया था।

बता दें कि बीते दो सप्ताह में चीन विवादित क्षेत्र में करीब 100 तंबू लगा चुका है। भारतीय सेना की कड़ी आपत्ति के बावजूद चीन क्षेत्र में बंकर बनाने के लिए आवश्यक चीजें ला रहा है। तनाव के बीच भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवाणे ने शुक्रवार (22 मई) को लद्दाख के लेह में स्थित 14 कोर के मुख्यालय का दौरा किया था। उन्होंने एलएसी के पास क्षेत्र में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की थी।