समाचार
शिरीषा बंडला अंतरिक्ष में जाने वाली भारत में जन्मीं दूसरी और पहली तेलुगु महिला होंगी

भारतीय मूल की अमेरिकी शिरीषा बंडला जल्द ही अंतरिक्ष में जाने वाली देश में जन्मीं दूसरी और तेलुगु-भाषी पहली महिला बन जाएँगी।

शिरीषा बंडला आंध्र प्रदेश के गुंटूर में पैदा हुई थीं। वे वर्तमान में एक प्रमुख अमेरिकी निजी अंतरिक्ष एजेंसी वर्जिन गेलेक्टिक के लिए काम करती हैं। कंपनी की योजना अगले सप्ताह के अंत में अपना अंतरिक्ष यान लॉन्च करने की है।

पर्ड्यू विश्वविद्यालय से वैमानिकी अभियांत्रिकी में स्नातक करने वाली शिरीषा अंतरिक्ष में जाने वाले छह सदस्यीय दल का हिस्सा हैं। इसमें अंग्रेज़ी व्यवसायी सर रिचर्ड ब्रैनसन भी शामिल हैं, जो इस अभियान में अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरेंगे।

वर्जिन गेलेक्टिक ने ट्वीट किया, “पूरी तरह से रॉकेट संचालित हमारी पहली परीक्षण उड़ान 11 जुलाई को दो पायलटों और रिचर्ड ब्रैनसन सहित चार मिशन विशेषज्ञों के साथ अंतरिक्ष में जाएगी।”

शिरीषा ने ट्वीट किया, “मैं यूनिटी22 के अद्भुत दल और एक ऐसी कंपनी का भाग बनकर अतुलनीय रूप से सम्मानित महसूस कर रही हूँ, जिसका मिशन अंतरिक्ष तक सभी की पहुँच करवाना है।”

हालाँकि, वर्तमान में वे अमेरिका में काम करती हैं लेकिन जन्म से पाँच वर्ष तक वे भारत में रही थीं। बाद में वे बेहतर अवसरों के लिए अपने परिवार के साथ अमेरिका चली गईं। द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, उनके पिता मुरलीधर बंडला और दादा रगैया दोनों कृषि वैज्ञानिक हैं।