समाचार
समुद्री व भूमि क्षेत्रों की रक्षा हेतु यूएस से 30 एमक्यू-9बी हथियारबंद ड्रोन खरीदेगा भारत

पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान के साथ तनाव के बीच अपने समुद्री और भूमि क्षेत्रों की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए भारत संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएस) से 30 हथियारबंद एमक्यू-9बी स्काई गार्जियन ड्रोन खरीदने की योजना बना रहा है।

मिंट की रिपोर्ट के अनुसार, भारत द्वारा अगले महीने सशस्त्र ड्रोन खरीदने के लिए 3 अरब डॉलर के समझौते को स्वीकृति दी जाएगी। एमक्यू-9बी ड्रोन रक्षा निर्माता जनरल एटॉमिक्स द्वारा निर्मित हैं और 40,000 फीट की अधिकतम ऊँचाई के साथ 40 घंटे तक उड़ने में सक्षम हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, ड्रोन हवा से सतह पर मार करने वाली मिसाइलों और लेजर-गाइडेड बमों सहित 2.5 टन से अधिक के हथियार को लेकर उड़ान भर सकते हैं।

यह कदम भारत के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह अपने मौजूदा इज़राइल हेरॉन बेड़े को उन्नत करने और अपनी उपग्रह संचार क्षमता की सीमा को बढ़ाने के रूप में देख जाता है। यह भारत की सैन्य क्षमताओं में वृद्धि करेगा क्योंकि अब जो ड्रोन हैं, उनका उपयोग समुद्री और भूमि क्षेत्रों पर केवल निगरानी और जासूसी के लिए किया जा सकता है।

यह गौर किया जाना चाहिए कि हाल के वर्षों में अमेरिका भारत के शीर्ष रणनीतिक और रक्षा साझेदार के रूप में उभरा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन के इस महीने भारत आने की उम्मीद है। इसके अतिरिक्त, जापान और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्रियों के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन 12 मार्च को एक वर्चुअल क्वॉड बैठक में प्रधानमंत्री मोदी के साथ शामिल होंगे।