समाचार
स्वदेशी परमाणु सक्षम पृथ्वी-2 मिसाइल का रात्रि में भारत ने किया सफल परीक्षण

मंगलवार (3 दिसंबर) को भारत ने स्वदेशी रूप से विकसित सतह से सतह पर परमाणु सक्षम वार करने वाली पृथ्वी-2 मिसाइल का ओडिशा तट से रात्रि में सफल परीक्षण किया।

रक्षा बलों के सूत्रों ने कहा कि सामरिक बल कमान ने चांदिपुर में इंटीग्रेटेड परीक्षण रेंज के प्रक्षेपण कॉम्प्लेक्स-3 से छोटी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल पृथ्वी-2 का रात्रि में सफल परीक्षण किया।

सूत्रों ने बताया कि मंगलवार शाम 7.48 बजे इस 350 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली इस बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण किया गया। बता दें कि पृथ्वी-2 का अंतिम रात्रि परीक्षण इस वर्ष 20 नवंबर को हुआ था।

पृथ्वी-2 500 से 1000 किलोग्राम का परमाणु विस्फोटक ले जाने में समर्थ है। इसमें जुड़वा इंजन है जो तरल-ईंधन की संचालन शक्ति से चलता है।

9 मीटर लंबी, एकल-चरण तरल-ईंधन वाली पृथ्वी मिसाइल एकीकृत निर्देशित मिसाइल कार्यक्रम के तहत डीआरडीओ द्वारा विकसित की गई पहली मिसाइल है। इसे 2003 में भारतीय सेना की 333-मिसाइल रेजिमेंट में शामिल किया गया था।

न्यूज़ ऑन एयर  के अनुसार आज का परीक्षण सशस्त्र बलों द्वारा नियमित प्रशिक्षण अभ्यास का एक हिस्सा था जो सेना की कम से कम समय में वार करने की तत्परता को दर्शाता है।

(आईएएनस  के समाचार से)