समाचार
पेशावर में सिख युवक की हत्या, भारत ने पाकिस्तान को फटकार लगा कार्रवाई के लिए कहा

पाकिस्तान के पेशावर में 25 वर्षीय सिख नागरिक और एक सार्वजनिक समाचार एंकर हरमीत सिंह के भाई रविंदर सिंह की एक अज्ञात व्यक्ति ने रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना पर भारत सरकार ने गंभीर चिंता जताते हुए पड़ोसी देश को फटकार लगाई।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, भारत ने पाकिस्तान सरकार से अल्पसंख्यक सिख समुदाय के सदस्यों को लक्ष्य करके उनकी हत्या रोकने और कार्रवाई करने का आह्वान किया। यह मामला तब सामने आया, जब पाकिस्तानी के कुछ अराजक तत्वों ने ननकाना साहिब के पवित्र सिख तीर्थस्थल पर हमला करते हुए उस पर पथराव किया था।

विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, “पाकिस्तान को अल्पसंख्यकों पर अत्याचार रोकना चाहिए और पुलिस को हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करना चाहिए। ननकाना साहिब गुरद्वारे पर हमला, सिख लड़की जगजीत कौर को अगवा कर उसका धर्मांतरण व निकाह, सिख युवक की हत्या जैसी घटनाएँ अल्पसंख्यक समुदाय की खराब स्थिति दिखाती हैं। भारत अल्पसंख्यक सिख समुदाय को निशाना बनाकर हो रहे हमलों की निंदा करता है।”

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने रविंदर सिंह का शव रविवार को पेशावर के चमकानी इलाके से बरामद किया। वह खैबर पख्तूनख्वा के शांगला जिले का रहने वाला था। शादी की खरीदारी के लिए पेशावर आया था। हत्या के आरोपी ने ही रविंदर के परिवार को फोनकर वारदात की जानकारी दी थी।

पाकिस्तान पुलिस हत्या के पीछे की वजह निजी रंजिश बता रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। घटना के बाद मृतक के भाई हरमीत सिंह ने कहा, “पाकिस्तान में हिंदू और सिखों की हालत बेहद खराब है। हम आरोपी की गिरफ्तारी तक सरकार के खिलाफ आवाज उठाते रहेंगे। मुझे यह मामला जिस मंच में उठाना पड़ेगा, वहाँ मैं उठाऊँगा।