समाचार
भारत ने चीन को पछाड़कर 2021 की पहली तिमाही में यूएस से खरीदा सर्वाधिक कच्चा तेल

एक प्रमुख विकास में भारत 2021 की पहली तिमाही में औसतन 4,21,000 बैरल प्रतिदिन (बीपीडी) कच्चा तेल अमेरिका से खरीदकर चीन को पछाड़ते हुए सबसे बड़ा खरीदार बन गया है।

हिंदू बिजनेसलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका से कच्चे तेल का औसत दैनिक आयात 2020 में भारत में काफी बढ़ गया है। दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा तेल उपभोक्ता देश अब सऊदी अरब के साथ कच्चे तेल के वैकल्पिक स्रोतों को देख रहा है।

यह गौर किया जाना चाहिए कि गत वर्ष 2020 की पहली तिमाही के दौरान भारत पहले से ही अमेरिका से कच्चे तेल के दूसरे सबसे बड़े खरीदार के रूप में खड़ा हुआ था क्योंकि उसके आयात में 2019 के आँकड़ों की तुलना में 26 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। इसके साथ 2020 की पहली तिमाही में भारत अमेरिका द्वारा निर्यात किए गए सभी कच्चे तेल का लगभग दस प्रतिशत खरीद रहा था।

इस वर्ष अमेरिका के कच्चे तेल के भारतीय आयात में और तेजी आई है। भारत के 4,21,000 बीपीएड आयात करने के बाद दक्षिण कोरिया 3,13,000 बीपीडी के आयात के साथ दूसरे स्थान पर रहा। चीन तीसरे स्थान पर रहा, जिसने अमेरिका से 2,95,000 बीपीडी का आयात किया।

यह गौर किया जाना चाहिए कि निर्यात पर 40 वर्ष के लंबे प्रतिबंध के बाद अमेरिका ने 2016 के जनवरी में ही तेल निर्यात फिर से शुरू कर दिया था।