समाचार
भारत अब दूसरा सबसे बड़ा एलपीजी उपभोक्ता, श्रेय उज्ज्वला योजना को

भारत अब विश्व में एलपीजी का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता है और एलपीजी ग्राहकों की संख्या 2014-15 में 14.8 करोड़ से बढ़कर 2017-18 तक 22.4 करोड़ हो गई, यानि की संयुक्त वार्षिक वृद्धि दर 15 प्रतिशत की, इकोनॉमिक टाइम्स  ने रिपोर्ट किया। वहीं चीन सबसे बड़ा एलपीजी उपभोक्ता है।

इस वृद्धि का श्रेय एनडीए सरकार की प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को दिया जा रहा है जिसके अंतर्गत गरीबों को मुफ्त में गैस कनेक्शन दिए गए। मई 2016 में इस योजना के शुरू होने के बाद लगभग 6.31 करोड़ नए कनेक्शन दिए गए हैं।

“जनसंख्या वृद्धि के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में एलपीजी की व्याप्ति ने खपत में औसतन 8.4 प्रतिशत की वृद्धि प्रदान की जिससे 2.25 करोड़ टन की खपत के साथ भारत दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बन गया। तेल मंत्रालय के गणित के अनुसार यह खपत 2025 तक 3.03 करोड़ टन और 2040 तक 4.06 करोड़ टन हो जाएगी।”, तेल सचिव एमएम कुट्टी ने बताया।

भारत में एलपीजी व्याप्ति 2014 में 55 प्रतिशत से बढ़कर 90 प्रतिशत के निकट पहुँच गई है। कुट्टी ने जोड़ा, “हमें विश्वास है कि हम 8 करोड़ के लक्ष्य तक पहुँचकर पर्यावरण की रक्षा के साथ महिला सशक्तिकरण करने में भी सक्षम होंगे।”