समाचार
हिंदू अल्पसंख्यकों के घरों को पाकिस्तान में निशाना बनाए जाने पर भारत ने जताई आपत्ति

पाकिस्तान में हिंदू अल्पसंख्यकों के घरों को चुन-चुनकर निशाना बनाया जा रहा है। उनके घरों में जान-बूझकर तोड़-फोड़ की जा रही है। भारत ने इसको लेकर कड़ी आपत्ति जाहिर की है।

टाइम्स नाऊ हिंदी की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तानी उच्चायोग के समक्ष इस बारे में आपत्ति दर्ज करवाई गई है। भारत का यह कदम इस बारे में नागरिक समाज की शिकायतों के बाद आया है, जिनका कहना है कि पाकिस्‍तान में हिंदू अल्पसंख्यकों को निशाना बनाया जा रहा है और उनके घरों में तोड़फोड़ की जा रही है।

जानकारी मिल रही है कि पड़ोसी देश में रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय अपना पहचान-पत्र, घर के मालिकाना हक के कागज़ात दिखाने और कानूनी अधिकारों से संबंधित दस्तावेज दिखा रहे हैं। इसके बावजूद उनके घरों को निशाना बनाया जा रहा है। उन्हें ध्वस्त किया जा रहा है। वहाँ का प्रशासन इस मसले पर मौन बना हुआ है।

सूत्रों की मानें तो भारत की ओर से पाकिस्‍तानी उच्‍चायोग से कहा गया है कि इमरान खान सरकार इसपर कार्रवाई करे और वहाँ रह रहे अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों की सुरक्षा, उनके अधिकारों व उनकी स्‍वतंत्रता को समुचित सम्‍मान व संरक्षण दे।