समाचार
भारत इस्लामिक आतंकवाद से परेशान- चीन की एक रिपोर्ट

संयुक्त राष्ट्र संघ में आतंकवाद के मुद्दे पर मात खाने के बाद चीन ने भी माना है कि भारत इस्लामिक आतंकवाद से पीड़ित है। चीन ने अपना आधिकारिक श्वेत-पत्र जारी करते हुए कहा है कि भारत अतिवादियों और इस्लामिक आतंकवादियों से त्रस्त है। चीन का यह श्वेत-पत्र उसके आधिकारिक स्टेट काउंसिल इंफोर्मेशन द्वारा जारी किया गया है।

द इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर की मानें तो रिपोर्ट में कहा गया है कि 1990 के बाद भारत में आतंकवादी घटनाओं की संख्या तेज़ी से बढ़ी है, जो यह इशारा करती है कि इससे इस्लामिक कट्टरपंथ और तुर्किस्तान को मज़बूती मिली है। आतंकवाद की इस मज़बूती से मानवता को गंभीर खतरा है। रिपोर्ट के अनुसार, भारत के अलावा संयुक्त राज्य अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस, ब्रिटेन और श्रीलंका भी आतंकवाद से परेशान हैं।

चीन कि यह रिपोर्ट ऐसे समय आई है, जब चीन के ही शिंजियांग प्रांत में 1 लाख से अधिक मुस्लिम तुर्किस्तान के लिए आंदोलन कर रहे थे, जिसे बाद में चीन ने हिरासत में ले लिया था।