समाचार
इमाम मोहम्मद ताहिदी ने कहा, “कश्मीर ही नहीं पाकिस्तान भी भारत का है”

कट्टर इस्लाम के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले ऑस्ट्रेलियाई इमाम मोहम्मद ताहिदी ने कश्मीर पर अपनी स्थिति दोहराते हुए कहा, “यह भारत का है। यह कभी पाकिस्तान नहीं था।”

इमाम ने रविवार को ट्वीट कर कहा, “कश्मीर कभी पाकिस्तान का हिस्सा नहीं था। कश्मीर कभी पाकिस्तान का हिस्सा नहीं होगा। पाकिस्तान और कश्मीर दोनों भारत के हैं। हिंदूओं के इस्लाम में परिवर्तित हो जाने से यह तथ्य नहीं बदलेगा कि ये पूरा क्षेत्र हिंदू भूमि है। पाकिस्तान की क्या बात करना, भारत इस्लाम से भी पुराना है।”

इससे पहले, इस्लामी विद्वान ने इस्लामी आतंकवाद का समर्थन करने के लिए पाकिस्तान की आलोचना की थी। उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा था, “पाकिस्तान अपने संविधान में सभी नागरिकों के अधिकारों को बनाए रखने का दावा करता है। तब भी सरकार अल्पसंख्यकों के अधिकारों को मान्यता देने में असफल है। यह कई वर्षों से आतंकवादियों को पनाह दे रहा है। आतंकवाद से लड़ने के लिए पश्चिम से दसियों अरब डॉलर ले चुका है। फिर भी किसी चरमपंथी विचारधारा से लड़ने का उसने कोई प्रयास नहीं किया है।”

4 अगस्त के अपने ट्वीट में इमाम ने कहा था, “कश्मीर मुद्दे को लेकर मेरी स्थिति कभी नहीं बदली है। यह हिंदू भूमि है, जो पाकिस्तान से संबंधित नहीं है। मैंने अपनी पिछली भारत यात्रा के दौरान भारतीय राजनेताओं और भरोसेमंद नेताओं से इस बारे में चर्चा कर चुका हूँ।”