समाचार
यूएस-ईरान के बीच बढ़ते तनाव से कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि भारत की चिंता

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने स्ट्रेट ऑफ हॉर्मुज में संयुक्त राज्य अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ता देख कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि को लेकर सऊदी अरब के पेट्रोलियम मंत्री खालिद अल फलीह से चिंता व्यक्त की है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, धर्मेंद्र प्रधान ने फलीह से फोन पर हुई वार्ता में कहा, “भारत चाहता है कि सऊदी अरब पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) और ओपेक प्लस के भीतर एक सक्रिय भूमिका निभाए। वह तेल की कीमतों को उचित स्तर पर बनाए रखने के लिए इस पर चर्चा करे।”

रिपोर्ट के अनुसार, ईरान पर अमेरिकी सैन्य हमले की आशंका के चलते वैश्विक तेल की कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है। यह युद्ध मध्य पूर्व से तेल की आपूर्ति को बाधित करेगा, जो दुनिया के तेल उत्पादन का पाँचवाँ सबसे बड़ा जरिया है।

धर्मेंद्र प्रधान ने कच्चे तेल की मूल्य अस्थिरता के बारे में भारतीय उपभोक्ताओं की संवेदनशीलता को भी दोहराया है। उन्होंने हाइड्रोकार्बन क्षेत्र में सहयोग और दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने की भी माँग की है।