समाचार
भारत ला सकता है अपना ऐप स्टोर, ऐप डेवलपर्स व उद्यमियों की मांग, केंद्र करेगी विचार

देश में गूगल प्ले और एप्पल प्ले स्टोर्स का एकाधिकार खत्म करते हुए भारत खुद का ऐप स्टोर लॉन्च कर सकता है। देश के ऐप डेवलपर्स और उद्यमियों ने भारतीय ऐप स्टोर तैयार करने की मांग की है। अब केंद्र सरकार इस मांग पर विचार करेगी।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया, “भारत का एक ऐप स्टोर पहले से है, जो फिलहाल सरकारी ऐप्स के लिए है। इस पर उमंग, अरोग्य सेतु और डिजिलॉकर जैसे ऐप्स मौजूद हैं। शुरुआत करने के लिए इसे बड़ा किया जा सकता है।”

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर पर कहा, “भारतीय ऐप डिवेलपर्स से मिले सुझाव से खुश हूँ। आत्मनिर्भर भारत ऐप ईकोसिस्टम तैयार करने के लिए इंडियन ऐप डिवेलपर्स को प्रोत्साहित करना जरूरी है।”

सूत्रों की मानें तो फोन में गूगल प्ले स्टोर के साथ वैकल्पिक ऐप स्टोर भी पहले से ही लोड मिले। इसके लिए आवश्यक है कि स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों के लिए एक पॉलिसी पेश की जाए। बता दें कि हाल ही में गूगल ने ऐसे ऐप्स के लिए 30 प्रतिशत शुल्क की घोषणा की है, जो प्ले स्टोर पर मौजूद हैं लेकिन गूगल के बिलिंग सिस्टम का उपयोग नहीं कर रहे।